Bollywood Hindi Lyrics

Bollywood Songs Hindi Lyrics

 
 

   Hindi Lyrics  /  Raftaar Songs Lyrics  /  Sansaar Hai Ik Nadiya

Sansaar Hai Ik Nadiya (1484 views)

   Please Rate this lyrics

Rating: 0.0/5 (0 votes cast)

संसार है इक नदिया, दुह्ख-सुख दो किनारे है
ना जाने कहा जाए, हम बहते धारे है

चलते हुए जीवन की, रफ़्तार मे इक ले है
इक राग मे इक सुर मे, संसार की हर शय है
संसार की हर शय है ...
इक तार पे गर्दिश मे, ये चांद सितारे है

धरती पे अम्बर की आंखो से बरसती है
इक रोज़ यही बूंदे, फिर बादल बनती है..
इस बनाने बिगड़ने के दस्तूर मे सारे है

कोई भी किसी के लिए, अपना न पराया है
रिस्श्ते के उजाले मे, हर आदमी साया है..
कुदरता के भी देखो तो, ये खेल पुराने है

है कौन वो दुनिया मे, न पाप किया जिसने
बिन उलझे कांटो से, है फूल चुने किसने
है फूल चुने किसने...
बे-दाग नही कोइ, यहा पापी सारे है

This lyrics Print Send / Dedicate to someone